ऋण के 1.81 लाख हड़पने वाले आरोपी की जमानत खारिज

ऋण के 1.81 लाख हड़पने वाले आरोपी की जमानत खारिज

उदयपुर. बीटीबी फाईनेंशियल सर्विसेज के कलेक्शन ऑफिसर द्वारा बांसवाड़ा के 19 ग्राहकों के वाहनों का दिया गया ऋण वसूल कर कम्पनी में जमा नहीं करा 1 लाख 81 हजार 210 रूपए योजनाबद्ध तरीके से हड़प लिए. न्यायिक अभिरक्षा में चल रहे आरोपी की जमानत अर्जी को नामंजूर कर दी. यह आरोपी विगत चार वर्षों से फरार लच रहा था.

प्रकरण के अनुसार दिलीप सनाढ्य ने 11 दिसम्बर 2015 को परिवार के जरिये रिपोर्ट दर्ज कराई कि बीटीबी फाईनेंशियल सर्विसेज उदयपुर वाहनों पर ऋण उपलब्ध कराने का व्यवसाय करता है, जिसके चलते लाल सिंह जी की हवेली बस्सी खेड़ा बस्सी चित्तौड़ निवासी राजेश कुमार पुत्र शंकर गौड़ को उदयपुरबांसवाड़ा शहर में कलेक्शन ऑफिसर के पद पर नियुक्त किया. आरोपी ने कम्पनी के निर्देशानुसार बांसवाड़ा में ऋण धारियों से ऋण की वसूली की, लेकिन 19 ग्राहकों की 1 लाख 81 हजार 210 रूपए वसूली तो की लेकिन कम्पनी में जमा नहीं कराए गए. इस तरह ग्राहकों की योजनाबद्ध तरीके से राशि हड़प धोखाधड़ी करने का मामला भूपालपुरा थाने में राजेश कुमार गौड़ के खिलाफ दर्ज कराया गया. इस मामले में न्यायिक अभिरक्षा में चल रहे राजेश कुमार गौड़ की ओर से जिला एवं सत्र न्यायालय में जमानत का प्रार्थना पत्र पेश किया. दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद अदालत ने माना कि प्रकरण दर्ज होने के पश्चात आरोपी लम्बे समय तक गिरफ्तारी से बचता रहा है तथा गिरफ्तारी मफरूर घोषित करने के पश्चात स्थाई वारंट की पालना में प्रकरण दर्ज होने के लगभग चार वर्ष बाद गिरफ्तार हुआ है. ऐसी स्थिति में इस प्रकार की निरन्तर बढ़ती हुई धोखाधड़ी की घटनाओं को ध्यान में रखते हुए आरोपी को जमानत का लाभ दिया जाना न्यायोचित नहीं है. पीठासीन अधिकारी रविंद्र कुमार माहेश्वरी ने आरोपी के जमानत प्रार्थना पत्र को नामंजूर कर दिया.

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*