इंस्टाग्राम ने दिल्ली पुलिस को भेजी ग्रुप के सदस्यों की डिटेल · Indias News

इंस्टाग्राम ने दिल्ली पुलिस को भेजी ग्रुप के सदस्यों की डिटेल


नई दिल्ली (New Delhi) . ब्वॉयज लॉकर रूम मामले में इंस्टाग्राम ने ग्रुप के लोगों की डिटेल दिल्ली पुलिस (Police) के साथ साझा की है. इस डिटेल में इस बात का खुलासा हुआ है कि ग्रुप के कुछ लोगों ने इंस्टाग्राम और अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट पर अपना संपर्क नंबर साझा नहीं किया है. दरअसल, सोशल मीडिया (Media) पर अकाउंट खोलने के लिए ई-मेल या फिर मोबाइल नंबर दोनों में से एक की डिटेल यूजर की तरफ से दी जाती है, ताकि किसी भी तरह के मैसेज उस पर भेजे जा सकें.

हालांकि, जिन्होंने मोबाइल नंबर नहीं दिए थे, उनके बारे में भी ईमेल के आधार पर साइबर सेल की तकनीकी टीम ने पता लगा लिया है और उनसे पूछताछ भी कर ली है. वहीं, एक शख्स ने नंबर देने के बाद भी काफी दिन तक अपने मोबाइल को बंद रखा, ताकि पुलिस (Police) उस तक नहीं पहुंच सके, लेकिन तमाम तकनीकी प्रयास के आधार पर पुलिस (Police) ने इस शख्स का भी पता लगा लिया और उससे भी पूछताछ की. साइबर सेल पोस्ट किए गए मैसेज व चैट के तकनीकी डिटेल को बेहद अहम मान रही है. दरअसल यह तकनीकी डिटेल ही साक्ष्य का काम करेगी, इसलिए इस वक्त पुलिस (Police) का पूरा जोर तकनीकी डिटेल के आधार पर साक्ष्य एकत्र करने में है. जब्त किए गए मोबाइल की फॉरेंसिक जांच रिपोर्ट साक्ष्य के तौर पर काफी महत्वपूर्ण साबित होगा.

पुलिस (Police) इंस्टाग्राम से मांगी गई पोस्ट डिटेल के आधार पर साक्ष्य तैयार करेगी, इसलिए पुलिस (Police) ने इन अकाउंट से चैटिंग की डिटेल मांगी है. इन अकाउंट से कब-कब चैटिंग की गई थी? किस लोकेशन से की गई? किससे की गई थी? सोशल मीडिया (Media) पर क्या-क्या और कब-कब पोस्ट किए गए? कब डिलीट किए गए? इन पोस्ट पर किस-किसने प्रतिक्रिया दी थी? इन तमाम जानकारी के अलावा कुछ और तकनीकी डिटेल हैं. पुलिस (Police) ने इंस्टाग्राम से इस बीच कई बार संपर्क साधा तो उनकी तरफ टुकड़ों में ही सही कई सूचना मुहैया कराई गई हैं. इन सूचनाओं के आधार पर जहां पुलिस (Police) ने ग्रुप के लोगों का पता लगाया, वहीं पूछताछ के दायरे में आए लोगों के नेटवर्क को खंगालते हुए भी कई सदस्यों तक पहुंची. हालांकि इंस्टा से डिटेल के लिए पुलिस (Police) को कई बार संपर्क करना पड़ा. बहरहाल इंस्टा की तरफ से मुहैया कराई गई डिटेल के आधार पर जांच पुलिस (Police) अपनी तफ्तीश आगे बढ़ा रही है.

Check Also

रेल मंत्री पीयूष गोयल की अपील, गंभीर बीमारी से पीड़ित लोग नहीं करे श्रमिक ट्रेनों से यात्रा

नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना महामारी (Epidemic) के बीच प्रवासी मजदूरों को घर वापस …