आस्ट्रेलिया दौरे से लौटने के बाद रहाणे ने नहीं काटा कंगारू वाला केक, कहा दूसरों की भावना को चोट पहुंचाना ठीक नहीं

नई दिल्ली (New Delhi) . टीम इंडिया के स्टार बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे ने बताया कि उन्होंने ऑस्ट्रेलिया दौरे से लौटने के बाद कंगारू केक काटने से मना क्यों कर दिया. ऑस्ट्रेलिया की सरजमीं पर मिली ऐतिहासिक टेस्ट सीरीज जीत के बाद जब रहाणे अपने घर लौटे तो लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया. विराट कोहली की गैरमौजूदगी में रहाणे ने टेस्ट सीरीज के अंतिम तीन मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी संभाली और सीरीज में 2-1 से शानदार जीत भी दिलाई. ऑस्ट्रेलिया दौरे से घर लौटने के बाद रहाणे का उनके अपार्टमेंट और आसपास के लोगों ने जोरदार स्वागत किया.

जश्न के माहौल में लोगों ने रहाणे के लिए एक केक भी तैयार कराया, जिस पर कंगारू बना था. एक वीडियो सोशल मीडिया (Media) पर काफी वायरल हुआ था जिसमें रहाणे उस केक को काटने से इनकार करते नजर आए. रहाणे ने मशहूर कमेंटेटर हर्ष भोगले को बताया कि उन्होंने आखिर ऐसा क्यों किया. रहाणे ने बताया कि कंगारू ऑस्ट्रेलिया का राष्ट्रीय पशु है. केक पर चित्रित उसकी छवि को काट कर मैं आस्ट्रेलियाई लोगों के सम्मान को ठेस नहीं पहुंचाना चाहता था. उन्होंने कहा कि आप भले ही विपक्षी टीम को हरा दें, तो भी हार-जीत के बावजूद आपको उसे सम्मान देना बंद नहीं कर देना चाहिए.

उन्होंने कहा कि भले ही आप जीत जाएं, आप इतिहास रच दें लेकिन मुझे लगता है कि आपको विरोधी को भी सम्मान देना चाहिए. यही वजह थी कि मैंने केक काटने से तब मना कर दिया था. अजिंक्य रहाणे अपनी पत्नी राधिका और बेटी के साथ घर पहुंचे तो उनके फैन और अपार्टमेंट के लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया. रहाणे के लिए रेड कार्पेट बिछाया गया. वह जैसे ही अंदर पहुंचे, बैंड-बाजे बजाए गए.

Check Also

जापान में 107 दिन बाद ओलंपिक और बढ़ रहे केस

टोक्यो . जापान में ठीक 107 दिन बाद ओलंपिक शुरू होना है, इस बीच कोरोना …