आतंकियों की पैरवी करने वालों को राम मंदिर बुरा ही लगेगा : मुख्यमंत्री योगी

Photo of author

गोरखपुर, 10 मई . उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर संसदीय सीट से भाजपा प्रत्याशी रविकिशन शुक्ल के नामांकन के बाद जनसभा को संबोधित किया.

महंत दिग्विजयनाथ पार्क में आयोजित चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने विपक्ष पर जमकर हमला बोला. अयोध्या में श्रीराम मंदिर के निर्माण के औचित्य पर सवाल उठाए जाने को लेकर उन्होंने कहा कि आतंकवादियों की पैरवी करने वालों को तो राम मंदिर बुरा ही लगेगा. तीसरे चरण के मतदान तक हताश हो चुके विपक्ष के नेता अब भगवान राम पर टिप्पणी करने लगे हैं. कोई कहता है कि राम मंदिर बेकार है तो कोई कहता है कि राम मंदिर से जनता को क्या लाभ है. आतंकियों की पैरवी करने वालों को राम मंदिर अच्छा नहीं लग सकता है.

उन्होंने कहा कि सरकार में रहते हुए आज के विपक्ष ने राम जन्मभूमि पर आतंकी हमला करने वालों के खिलाफ, माफियाओं के खिलाफ कड़े कदम उठाए होते तो संकटमोचन मंदिर और कचहरी पर आतंकी हमले नहीं होते. आतंकवाद के मुद्दे पर घुटना टेकने की नीति का दुष्परिणाम रहा कि इन हमलों में हजारों लोगों को जान गंवानी पड़ी.

मुख्यमंत्री योगी ने आगे कहा कि तीसरे चरण में लोकसभा का चुनाव अब उस मोड़ पर पहुंच गया है, जहां विपक्ष ने हार मान ली है. कांग्रेस, सपा, बसपा सबने हार स्वीकार कर ली है. तीन चरणों में 285 सीटों पर यानी पूरे देश के अंदर आधा चुनाव संपन्न हो चुका है. चुनाव प्रचार में देश के अंदर उन्हें नौ राज्यों में जाने का अवसर प्राप्त हुआ है. पूरे देश के अंदर एक ही स्वर गूंज रहा है, “फिर एक बार मोदी सरकार.”

उन्होंने आगे कहा कि देश की जनता के लिए सारी समस्याओं का समाधान रामराज है और इसी रामराज के लिए जनता बार-बार मोदी सरकार को चुन रही है. जनता यही कह रही है, जो राम को लाए हैं, हम उनको लाएंगे. रामराज का मतलब सबका सम्मान, सबकी सुरक्षा, सबका विकास और गरीब कल्याणकारी योजनाओं का लाभ हर तबके को बिना भेदभाव प्राप्त होना है. पीएम मोदी के नेतृत्व वाले आज के नए भारत में सम्मान, सुरक्षा, विकास, गरीब कल्याण के साथ आस्था का सम्मान भी है. आज के भारत में बेटी के जन्म से लेकर विवाह तक की योजना है, नौजवानों के लिए नौकरी और रोजगार हैं, किसानों के लिए योजनाएं हैं.

विकेटी/एकेएस