आईडीबीआई अब प्राइवेट बैंक घोषित, एलआईसी ने 51% हिस्सेदारी खरीदी थी 

आईडीबीआई अब प्राइवेट बैंक घोषित, एलआईसी ने 51% हिस्सेदारी खरीदी थी 

मुंबई. रिजर्व बैंक ने आईडीबीआई को अब सरकारी से प्राइवेट बैंक घोषित कर दिया है. एलआईसी द्वारा इस बैंक के अधिग्रहण के बाद यह फैसला लिया गया है. जनवरी में वीमा कंपनी एलआईसी ने आईडीबीआई की 51% हिस्सेदारी हासिल कर ली थी.

रिजर्व बैंक ने गुरुवार को जारी बयान में कहा कि एलआईसी द्वारा 51% हिस्सेदारी लेने के बाद 21 जनवरी, 2019 से आईडीबीआई को प्राइवेट बैंक का दर्जा दिया गया है. रिजर्व बैंक ने आईडीबीआई को तत्काल सुधार (पीसीए) की श्रेणी में रखा था. इसमें आने वाले बैंकों पर बड़े कर्ज देने, ब्रांच की संख्या बढ़ाने, सैलरी में इजाफा करने आदि पर रोक होती है. कमजोर प्रदर्शन करने वाले बैंकों को पीसीए के तहत रखा जाता है. आरबीआई द्वारा आईडीबीआई को प्राइवेट बैंक घोषित करने से बैंक के ग्राहकों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. उनके सारे काम उसी तरह होंगे जैसा पहले होते थे. रिजर्व बैंक के तमाम गाइडलाइन सरकारी और प्राइवेट बैंकों के लिए एक जैसे होते हैं. इनमें कोई अंतर नहीं होता है.


http://udaipurkiran.in/hindi

आईडीबीआई अब प्राइवेट बैंक घोषित, एलआईसी ने 51% हिस्सेदारी खरीदी थी  DAINIK PUKAR. Dainik Pukar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*