अब सडक़ों पर गड्ढे मिलने पर कटेंगे स्वच्छता के नम्बर

अब सडक़ों पर गड्ढे मिलने पर कटेंगे स्वच्छता के नम्बर

roads

झुंझुनू. इस बार स्वच्छता सर्वेक्षण को भी लीग 2020 का नाम दिया गया है. अब तक साल के आखिर में शुरू होने वाले स्वच्छता सर्वेक्षण की बजाए अप्रैल से जून और जुलाई से सितम्बर की दो तिमाही में भी मूल्यांकन होगा. इसके लिए अंक आखिरी सर्वेक्षण में जुडेंगे. दिसम्बर-जनवरी में सालाना सर्वेक्षण कर देश के टॉप स्वच्छ शहरों की रैंकिग जारी की जाएगी.

शहरी विकास मंत्रालय ने स्वच्छता लीग की नई गाइड लाइन जारी कर दी है बहुत कुछ बिन्दु पहले की तरह ही हैं लेकिन इस बार स्वच्छ बाजार, प्लास्टिक और डिस्पोजेबल शहर, कम कचरा और तुरंत निष्पादन पर अधिक जोर दिया गया है.

शहर की सडक़ों को गड्ढों से मुक्त बनाना होगा. बिजली के झूलते तार और हरियाली कम मिलने पर शहर को नुकसान उठाना पड़ेगा. नई गाइड मिलने पर नगरपरिषद की ओर से तैयारियां शुरू कर दी गई है. जानकारी के मुताबिक साल 2019 में पांच हजार नंबरों के आधार पर शहर की रैंकिग तय की गई थी. इसमें झुंझुनू शहर देश में 245वीं रैंक पर था. 2020 के लिए चार हजार नम्बरों की परीक्षा देनी होगी. इस बार निगेटिव मार्किंग का प्रावधान भी रखा गया है.

झुंझुनू नगर परिषद के आयुक्त विनयपाल ने बताया कि स्वच्छता सर्वेक्षण की नई गाइड मिली चुकी है. परिषद की ओर से इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी है. हमारी कोशिश रहेगी की शहर को अच्छी रैटिंग मिले.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*