भारतीय मूल की तुलसी गाबार्ड लड़ेंगी राष्ट्रपति चुनाव

डेमोक्रेट सांसद ने अगले वर्ष होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए मैदान उतरने का किया दावा

लॉस एंजेल्स, 12 जनवरी (उदयपुर किरण). भारतीय मूल की हवाई से डेमोक्रेट सांसद तुलसी गाबार्ड ने राष्ट्रपति चुनाव 2020 के लिए चुनाव मैदान में कूदने का फैसला किया है. हिंदू धर्म की प्रबल समर्थक तुलसी गाबार्ड जन्म से अमेरिकी नागरिक हैं. उनका जन्म सन 1981 में अमेरिकी द्वीप तुतिला (समोआ) में हुआ था. वह दो साल की आयु में अपने परिवार के साथ हवाई आ गई थीं. अमेरिकी संविधान के अनुसार राष्ट्रपति पद के लिए वही अधिकृत प्रत्याशी बन सकता है, जो जन्म से अमेरिकी नागरिक हो.

इसके अलावा एक प्रत्याशी के लिए 35 वर्ष की न्यूनतम आयु और कम से कम 14 वर्ष तक अमेरिका का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है. शुक्रवार को तुलसी ने कहा कि वह अगले सप्ताह राष्ट्रपति चुनाव के लिए विधिवत घोषणा कर देंगी. तुलसी हवाई द्वीप समूह के नंबर-2 जिले से राष्ट्रीय प्रतिनिधि सभा के लिए निर्वाचित हुई थीं. तुलसी गाबार्ड की मां करोल गाबार्ड अमेरिकी राज्य इंडियाना में पैदा हुई थीं जबकि उनके पिता जो हवाई से सिनेटर थे, समोआ में पैदा हुए थे. इस तरह तुलसी भी फेडरल नियमों के अनुसार अमेरिकी नागरिक हैं. तुलसी के जन्म को लेकर विवाद खड़े होने की स्थिति में यह कहा जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने अमेरिकी नागरिकता के लिए कभी भी प्राकृतिक जन्म से नागरिकता की व्याख्या नहीं की है.

इस तरह के मामले हमेशा विवाद के कारण बनते रहे हैं. बराक ओबामा के खिलाफ राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव लड़े रिपब्लिकन प्रत्याशी जान मेकें का जन्म पनामा कनाल क्षेत्र में हुआ था, जबकि उनके पिता अमेरिकी नौसेना में वहां तैनात थे. इसी तरह पिछले चुनाव में रिपब्लिकन प्रत्याशी टेड क्रूज भी कनाडा में पैदा हुए थे. जान मेकें के जन्म के मुद्दे को अदालत में चुनौती दी गई थी.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*