महिन्द्रा ब्लैज़ो एक्स श्रृंखला की पेशकश

उदयपुर. महिन्द्रा ट्रक एंड बस (एमटीबी) ने एचसीवी ट्रकों की नई श्रृंखला ब्लैज़ो एक्स की पेशकश की है. यह इसके लोकप्रिय ब्लैज़ो ट्रक्स का उन्नत रूप है. ब्लैज़ो एक्स का माइलेज ब्लैज़ो से अधिक है, इसलिये यह ईंधन की बढ़ती कीमतों से परेशान ट्रांसपोर्टर्स की समस्याओं को दूर करने में कारगर होगा और यह ‘अधिक माइलेज पाओं या ट्रक वापस करो’ की अनूठी एवं बेजोड़ माइलेज गारंटी देता है.

महिन्द्रा एंड महिन्द्रा लि. में ऑटोमोटिव सेक्टर के प्रेसिडेन्ट राजन वढेरा ने कहा कि नये ब्लैज़ो एक्स में कई सुधार किये गये हैं जैसे वाहन के एयर मैनेजमेन्ट सिस्टम में बेहतर क्षमता, रोलिंग कैरेक्टरिस्टिक्स और वाहन के रोटैटिंग पाट्र्स, आदि. ब्लैज़ो एक्स ऐसे समय पर लॉन्च हुआ है, जब ईंधन के दाम लगातार बढ़ रहे हैं. नई ब्लैज़ो एक्स सीरीज सभी प्लेटफॉम्र्स में उपलब्ध होगी, जैसे हाउलेज, ट्रैक्टर-ट्रेलर और टिपर और इसमें ब्लैज़ो की बेहद सफल फ्यूलस्मार्ट टेक्नोलॉजी मौजूद है.

कंपनी ने कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक 3800 कि.मी. लंबी पट्टी पर अपने नॉर्थ-साउथ सर्विस कॉरिडोर की स्थापना की घोषणा भी की है. इसमें प्रत्येक 100 कि.मी. पर 41 सर्विस टचपॉइंट होंगे, जो 4 घंटे में सर्विस की गारंटी देते हैं, अन्यथा विलंब के प्रत्येक घंटे पर 500 रू. का मुआवजा मिलेगा. मुंबई-दिल्ली सर्विस कॉरिडोर के बाद यह दूसरा ऐसा कॉरिडोर है, जो ट्रकों की लगभग 30 प्रतिशत आवाजाही के लिये सेवा प्रदान करता है. महिन्द्रा एंड महिन्द्रा लि. के महिन्द्रा ट्रक एंड बस डिविजन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विनोद सहाय ने कहा कि ब्लैज़ो एक्स के लॉन्च से बाजार में हमारी स्थिति और मजबूत होगी.

भारत की सडक़ों पर 21,000 ब्लैज़ो ट्रक दौड़ रहे हैं, एचसीवी की हमारी ब्लैज़ो श्रृंखला महत्वपूर्ण सेंगमेंट्स में पसंद की गई है, जैसे कार कैरियर्स, टैंकर्स, सीमेंट बल्कर्स और कोयला उद्योग, क्योंकि यह मूल्य का सर्वश्रेष्ठ महत्व प्रदान करती है, यह् माइलेज में उत्तम है और इसके स्वामित्व की लागत कम है. आज एमटीबी भारतीय सीवी बाजार की एक बड़ी शक्ति बनने के मार्ग पर है, कुछ सेगमेंट्स और बाजारों में हम नंबर 3 पर हैं. हम समूचे एचसीवी सेगमेंट में नंबर 3 बनना चाहते हैं.

http://udaipurkiran.in/hindi

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*