हिरणमगरी : दीवार तोड़ घर में घुसे बदमाशों ने वृद्धा से मारपीट की लूटपाट

कान से जेवर खींचने से फटे कान, घर से ले गए अन्य नकदी व जेवर

उदयपुर। शहर के हिरणमगरी थाना क्षेत्र में गत रात्रि को कुछ बदमाश एक वृद्धा के घर में दीवार तोड़कर घुस गए। चोरो ने वृद्धा के साथ मारपीट की और वृद्धा के कान में पहने हुए जेवरों को खींच लिया। जिससे वृद्धा के कान फट गए। इसके साथ ही चोरों ने वृद्धा को पांव काटने की धमकी देकर घर में रखे अन्य जेवरात भी लेकर फरार हो गए। घटना के बाद मौके पर थानाधिकारी व अन्य अधिकारी पहुंचे और मौके का निरीक्षण किया। सुबह मौके पर पुलिस के आला अधिकारी पहुंचे। जिन्होंने मौका-मुआयना किया।

पुलिस सूत्रों के अनुसार उदीबाई (80) पत्नी स्व. कन्ना डांगी निवासी एकलिंगपुरा अपने घर मे अकेली रहती है। वृद्धा के तीन पुत्र है जो पास में ही अलग-अलग मकान में रहते है। वृद्धा अपने घर में रात्रि को अकेली सो रही थी। इसी दौरान रात्रि को करीब 1.30 बजे कुछ बदमाशों ने वृद्धा के मकान के पीछे खिड़की के नीचे दीवार में छेद किया और अंदर घुस गए। चोरों ने वृद्धा को उठाया और जान से मारने की धमकी देकर चुप कर दिया। इसके बाद चोरों ने वृद्धा के कान में पहने ओगणिया, गाळा और बालियों को खींचा, जिससे वृद्धा के कान फट गए। इसके साथ ही चोरो ने वृद्धा से अन्य जेवरातों के बारे में पूछा और नहीं बताने पर वृद्धा के पांव काटने की तैयारी शुरू कर दी। यह देखकर वृद्धा ने जमीन में दबा रखे अन्य जेवरातों के बारे में बता दिया। जिस पर चोरों ने खड्डा खोदकर सारे जेवरात निकाल दिए। वृद्धा ने जमीन में करीब पांच तोला सोने के और आधा किलो चांदी के जेवरात दबाकर रखे थे। इसी दौरान वृद्धा ने शोर मचाना शुरू कर दिया। जिससे जाग हो गई और चोर घबराकर सारे जेवर लेकर फरार हो गए।

रात्रि को गांव के लोग एकत्रित हुए और चोरों का पीछा भी किया, परन्तु चोर अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गए। घटना के बाद वृद्धा के पुत्रों और अन्य परिजन वृद्धा को चिकित्सालय में लेकर गए। जहां पर उपचार करवाया गया। सूचना पर रात्रि को ही थानाधिकारी जितेन्द्र आंचलिया मय जाब्ते के पहुंचे और मौका-मुआयना कर तत्काल आस-पास में दबिश देेने के लिए टीमों को भेजा। वृद्धा की रिपोर्ट पर मामला दर्ज किया गया। सुबह मौके पर डिप्टी भगवतसिंह हिंगड़, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर हर्ष रत्नू भी मय जाब्ते के पहुंचे और मौका-मुआयना किया।

ग्रामीणों ने जताया आक्रोश

सुबह मौके पर गए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर हर्ष रत्नू और डिप्टी भगवतसिंह हिंगड़ के सामने स्थानीय ग्रामीणों ने जमकर आक्रोश व्यक्त किया। ग्रामीणों ने कहा कि क्षेत्र में पर्याप्त गश्त व्यवस्था नहीं है और ना ही रात्रि को पुलिस की जीप आती है। इसी कारण यह वारदात हुई है। पुलिस अधिकारियों ने थानाधिकारी को पर्याप्त गश्त करवाने के लिए निर्देश दिए।

कुछ युवाओं को लिया हिरासत में

जांच में सामने आया कि रात्रि को लूटपाट करने के लिए आए युवकों द्वारा स्थानीय बोली ही बोली जा रही थी, जिसमें कुछ तो वागरिया जाति की शैली में बात कर रहे थे। इस पर पुलिस ने पास में ही स्थित एक बस्ती में दबिश दी और वहां से कुछ युवकों को उठाया है। इन युवकों से सख्ती से पूछताछ की जा रही है।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*