फतहसागर की पाल पर मूर्ति लगाने का विरोध, NGT और राज्‍य सरकार को विरोध दर्ज कराया जाएगा

उदयपुर. उदयपुर की झील हितेषी होने पर सागर की पाल पर लगाई जा रही मूर्तियों का एक बार फिर विरोध किया है और इस मामले में ग्रीन ट्रिब्यूनल नई दिल्ली और राजस्थान सरकार को विरोध दर्ज कराने का निर्णय लिया है. बुधवार को फतेह सागर की पाल स्थित राणा जी रेस्टोरेंट में एकत्रित हुए सभी झील प्रेमियों ने एक सुर में इन मूर्तियों को लगाने का विरोध किया है उन्होंने कहा कि इससे पाल को खतरा होगा तथा यहां पर लगने वाली मूर्तियों की भी दुर्दशा होगी जो पाल के हित में नहीं है.

बैठक में क्षत्रिय महासभा के बालू सिंह कानावत ने कहा कि नगर निगम ने हाड़ी रानी की मूर्ति लगाई लेकिन वह मूर्ति आज दुर्दशा का शिकार हो रही है इसी तरह उद्या पोल पर लगी महाराणा उदय सिंह की मूर्ति भी उपेक्षित है. बैठक में तकनीकी रूप से जानकार सेवानिवृत्त इंजीनियर जी पी सोनी ने कहा की हाई कोर्ट ने इस मामले में पहले निषेधाज्ञा जारी की थी लेकिन निषेधाज्ञा को इसलिए वेकेंट किया गया और एक तीन सदस्य कमेटी बनाई थी जो अपनी रिपोर्ट में न्यायालय में प्रस्तुत करने वाली थी लेकिन आज तक उस की बैठक नहीं हो पाई.

बैठक में मांगीलाल जोशी ने नगर निगम पर यूआईटी  क्षेत्र में जबरन पैसा लगाने पैसे का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया जबकि विभूति पार्क में मूर्तियां लगाने को लेकर तत्कालीन नगर विकास न्यास ने जो फैसला किया उसे मनमाने तरीके से बदला जाकर मूर्तियां पाल पर जबरन थोपी जा रही है. बैठक में वरिष्ठ अधिवक्ता शांतिलाल पामेचा ने इस मामले के लिए दिल्ली स्थित ग्रीन ट्रिब्यूनल नई दिल्ली का ध्यानाकर्षण कराने का सुझाव दिया वहीं अधिवक्ता रमेश नंदवाना ने शीघ्र ही आगामी दिवसों में राज्य सरकार को इसका ध्यान आकर्षण कराने के लिए सुझाव दिया.

झील हितेषी साथियों ने राज्य सरकार से ध्यानाकर्षण कराने के लिए पूर्व पार्षद अजय पोरवाल एवं नेता प्रतिपक्ष मोहसिन खान को जिम्मेदारी सौंपी है वही ग्रीन ट्रिब्यूनल में शिकायत के लिए अधिवक्ता रमेश नंदवाना शांतिलाल पामेचा उच्च न्यायालय द्वारा नियुक्त सदस्य जी पी सोनी एवं प्रवीण खंडेलवाल को जिम्मेदारी दी गई है. बैठक में दलपत सुराणा, बालू सिंह कानावत मांगीलाल जोशी जी पी सोनी, रमेश नंदवाना, शांतिलाल पामेचा, हरीश पालीवाल, प्रवीण खंडेलवाल, पूर्व पार्षद अजय पोरवाल, मोहसिन खान एवं तकनीकी जानकार मधुसूदन पंड्या भी मौजूद रहे.

http://udaipurkiran.in/hindi

The post फतहसागर की पाल पर मूर्ति लगाने का विरोध, NGT और राज्‍य सरकार को विरोध दर्ज कराया जाएगा appeared first on DAINIK PUKAR. Dainik Pukar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*